बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी' ने लिया म्यूज़ियम बनाने का फैसला

Babri Masjid हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार मस्जिद बनाने के लिए अयोध्या में उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा पांच एकड़ जमीन तय कर दी गई| जिसके बाद मुस्लिम समाज के लोग काफी खुश होने के साथ ही सरकार की काफी सराहना भी कर रहे है। इसके साथ ही एक बड़ी बात भी सामने आ रही है कि बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी ये विचार कर रही है कि बाबरी मस्जिद के अवशेष मिलने पर एक म्यूजियम निर्माण कर उन्हें उसमे सुरक्षित रखा जायेगा | जिसके लिए जमीन लखनऊ या दिल्ली में तलाशने को लेकर भी चर्चा जी जा रही है।





Kapil Mishra:कपिल मिश्रा ने सर्जिकल स्ट्रीक को लेकर ‘आप’ पर साधा निशाना





हांलाकि इस मामले पर अभी कमेटी सुप्रीम कोर्ट में मांग करेगी जिसके बाद फैसला आने पर ही म्यूजियम में अवशेष संरक्षित रखे जा सकते है। सूत्रों की माने तो बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के संयोजक जफरयाब जिलानी ने ये जानकारी दी। उन्होंने कहा इस फैसले के लिए अब बस ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की राय की ज़रूरत है जिसके बाद उनका फैसला पक्का हो जायेगा।





उन्होंने बताया कि मंदिर निर्माण से पहले ही वहां से बाबरी मस्जिद का मलबा हटवा लिया जायेगा। इसके साथ ही मस्जिद कमेटी के संयोजक और वकील जिलानी ने भी अपने विचार रखते हुए कहा कि 'मस्जिद की सामग्री किसी दूसरी मस्जिद या भवन में नहीं लगाई जा सकती। न ही इसका अनादर किया जा सकता है। इसलिए हम सुप्रीम कोर्ट में प्रार्थना पत्र देंगे।' फ़िलहाल अभी इस पर कोर्ट का फैलाने में अभी समय लग सकता है। Babri Masjid:'बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी' ने लिया म्यूज़ियम बनाने का फैसला


Post a Comment

नया पेज पुराने