नहीं रहें मसालों के बादशाह - महाशय धर्मपाल गुलाटी - MDH masala owner died

Masala Brand MDH Owner Mahashay Dharampal Gulati का स्वर्गवास हो गया. वे 98 साल के थे। खबरों के मुताबिक, गुलाटी का पिछले तीन हफ्तों से दिल्ली के चानन देवी हॉस्पिटल में दाखिल थे।



इससे पहले वे कोरोना से संक्रमित हो गए थे। हालांकि बाद में वे ठीक हो गए थे। पिछले साल उन्हें Padam Bhusan से सम्मानित किया गया था।

गुलाटी का जन्म 27 मार्च, 1923 को वर्तमान पाकिस्तान के सियालकोट में हुआ था। उन्होंने कक्षा V को पूरा करने से पहले स्कूल से बाहर कर दिया।

उन्होंने 1937 में अपने पिता की मदद से शीशे का एक छोटा व्यवसाय स्थापित किया। वह लंबे समय तक इस व्यवसाय को नहीं चला सके. उन्होंने साबुन, हार्डवेयर,कपड़ा, और चावल सहित कई प्रकार के व्यवसायों में काम किया।



वह विभाजन के बाद 1947 में भारत आये थे।  पहले कुछ समय अमृतसर बिताने के बाद वह 1500 रुपये लेकर दिल्ली आये और 650 रुपये में उन्होंने एक तांगा खरीदा और परिवार का पालन पोषण करने में लग गए ,

लेकिन किस्मत को कुछ और हो मंजूर था, उन्होंने दिल्ली में ही एक छोटी सी लकड़ी की दुकान खरीदी और अपना पारिवारिक व्यवसाय फिर से शुरू किया ,

जिसका नाम आज तक आप सभी की जुबान पर हैं जी हाँ महाशय दी हट्टी - MDH जिसका कारोबार आज की तारिक में लगभग 2000 करोड़ के आसपास हैं. 

ज्यादा जानकारी के लिए आप इस वीडियो को पूरा देखें और शेयर भी करें। 

Post a Comment

नया पेज पुराने